नई दिल्ली। सरकार एक बार फिर से महंगाई भत्ता बढ़ा सकती है। इस बार अनुमान लगाया जा रहा है कि महंगाई भत्ता में 4 फीसदी का इजाफा हो सकता है, जिसको मिला कर अगस्त के महीने में महंगाई भत्ते का आंकड़ा  38 फीसदी हो जाएगा. आपको बतादें मई के महीनें में जो कंज्यूमर महंगाई का आंकड़ा (AICPI Index numbers) आया उससे यह तय हो चुका है कि DA में 4 फीसदी का इजाफा हो सकता है. वैसे अभी जून का आंकड़ा भी आना बाकी है. जो कि 31 जुलाई को (AICPI) जारी होंगे, जानकार मानते हैं कि इसके बाद तो DA Hike होगा ही, इसी के साथ यह भी तय हो जाएगा कि महंगाई भत्ते में कुल कितनी बढ़ोत्तरी होगी।

महंगाई भत्ते में  हो सकती है बढ़ोत्तरी !

विदित हो केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता All India Consumer price Index-IW के आंकड़ों से संबद्ध है, अगर (AICPI)  के आंकड़े में इजाफा होता है तो महंगाई भत्ता भी उसी रेसियो में बढ़ता है. साल के पहले छमाही में से पांच महीने के आंकड़े तो आ चुके हैं, बस अबछमाही के आखिरी महीने यानी जून का आंकड़ा आना अभी बाकी है. जानकारों का मानना है कि जून में(AICPI)  के आंकड़े 130 तक पहुंच जाएंगे इसकी वजह से महंगाई भत्ता भी भड़ाना पड़ेगा जो 4 फीसदी हो सकता है। आपको बतादें मई के महीने में AICPI इंडेक्स 129 अंक के आकड़े पर पहुंचा है. ऐसे में ज़ाहिर है आने वाले दिनों में महंगाई भत्ता कोसरकार 4% की दर से बढ़ा सकती है।

4 फीसदीके इजाफे से DAहो जाएगा38%!

जानकार मानते हैं कि यदि डियरनेस अलाउंस (Dearness allowance) 4 फीसदी बढ़ता है तो केंद्रीय कर्मचारियों का कुल महंगाई भत्ता 38% के आंकड़े पर पहुंच जाएगा. जबकि मौजदा समय में महंगाई भत्ता का भुगतान 34% की दर से हो रहा है. जबकि नए महंगाई भत्ते का ऐलान आगामी अगस्त के महीने में होगा। महंगाई भत्ता बढ़ाने का फैसला सरकार कैबिनेट की बैठक में तय करती है. केंद्रीय कर्मचारियों के लिएइससे भी बड़ी खुशी की बात तो यह है कि, बढ़ने वाला महंगाई भत्ता 1 जुलाई 2022 से लागू माना जाएगा. और सैलरी में जुलाई के महीने के हिसाब से ही बढ़ा हुआ माना जाएगा।

Latest News