pension scheme

Pension: नौकरी के दौरान परिवार और आने वाले समय को ध्यान में रखते हुए चिंता बनी रहती है। ऐसे में बचत करना भी बेहद जरुरी होता है। लेकिन बात जब सिक्योर भविष्य की हो तो शायद ही कोई पीछे हटना चाहेगा। सेवानिवृति के बाद हर एक फॅमिली के लिए पेंशन बेहद जरुरी होती है। कई बार प्राइवेट नौकरी में रिटायरमेंट की टेंशन बनी रहती है। ऐसे में प्राइवेट नौकरी में भी पेंशन लेने के लिए क्या किया जाए? इसके लिए आज हम आपको कुछ जानकारी शेयर कर रहे हैं।

सरकार ने 2003 में पीएफआरडीए की स्थापना की थी। आप कुल 7 पेंशन फंड मैनेजर्स में से किसी एक का चुनाव कर सकते हैं। इनमें LIC Pension Fund, HDFC Pension Management Company, SBI pension Fund शामिल हैं।

पेंशन फंड में 60 साल की उम्र तक इनवेस्ट किया जा सकता है। इसके बाद आपको एक एनुइटी प्लान खरीदना होगा। आप छह एनुइटी प्रोवाइडर्स में से किसी एक से एनुइटी प्लान खरीद सकते हैं।

इनमें HDFC Life Insurance Company, LIC, ICICI Prudential Life Insurance शामिल हैं। एनुइटी प्रोवाइडर्स से आपको हर महीने पेंशन मिलेगी।

30 साल का कोई व्यक्ति हर महीने सिर्फ 5,000 रुपये NPS में इनवेस्ट कर हर महीने 22,279 रुपये का पेंशन पा सकता है। इसके अलावा उसे 45,5 लाख रुपये की एकमुश्त रकम भी हासिल होगी।

5,000 रुपये का अमाउंट उसे 60 साल की उम्र तक इनवेस्ट करना होगा। इस अनुमान के लिए सालाना 10 फीसदी इंट्रेस्ट रेट और 6% एनुइटी रेट का अनुमान लगाया गया है।

आप NPS की वेबसाइट पर उपलब्ध पेंशन कैलकुलेटर से खुद इसकी जांच कर सकते हैं। अगर आप हर महीने ज्यादा रकम इनवेस्ट करना चाहते हैं तो कैलकुलेटर की मदद से आप उस पर मिलने वाली पेंशन का पता लगा सकते हैं।

NPS में निवेश पर टैक्स बेनिफिट भी मिलता है। अगर आप नौकरी करते हैं तो सेक्शन 80CCD (1B) के तहत आप NPS में इनवेस्ट कर सालाना 50,000 रुपये का डिडक्शन हासिल कर सकते हैं। यह 80C के तहत मिलने वाले 1,50,000 लाख रुपये के डिडक्शन से अलग है।

Latest News