एंटरप्रेन्योर के रूप में सफल होने के लिए हर कोई अपनी पूरी कोशिश करता है। इसके लिए अगर उसे अपना बिजनेस शिफ्ट भी करना पड़े, तो भी वह नहीं हिचकिचाता। हालांकि, बिजनेस शिफ्ट करने का निर्णय वाकई मुश्किल होता है और न ही एक झटके में लिया जाता है। जब भी कोई ऐसा फैसला करता है, तो कई बार सोचता है और कई पहलुओं पर गौर करता है। आप भी ऐसा ही कुछ प्लान कर रहे हैं, तो इन सवालों के जवाब जरूर ढूंढें –

प्रतिस्पद्र्धी कौन है?
नई जगह चाहे वह उसी शहर में कोई नया मार्केट हो या कोई नया शहर या नया देश, आपको यह जानना जरूरी होता है कि वहां आपकी प्रतिस्पद्र्धा किससे होगी। जिस तरह आप नई जगह को समझने के बाद ही वहां बिजनेस सेट अप करने की योजना बनाते हैं, उसी तरह उस जगह पर अपने नए प्रतिस्पद्र्धियों के बारे में जानना भी बहुत जरूरी है। अगर आपको अपने कॉम्पिटिटर्स के बारे में नहीं पता होगा, तो आप नई जगह के हिसाब से अपने बिजनेस के लिए सही प्लानिंग नहीं कर पाएंगे। इससे आपके बिजनेस को नुकसान हो सकता है।

अपने बिजनेस को शिफ्ट करने का निर्णय लेने से पहले कुछ अहम सवालों के जवाब जरूर जान लें, तभी कोई कदम उठाएं।

शिफ्टिंग का फैसला लेने से पहले अपने लूप,
प्रतिस्पद्र्धी, नई जगह और आने वाले खर्च के बारे में जान लें।

कितना खर्च आएगा?
अपने बिजनेस को किसी भी नई जगह पर शिफ्ट करने से पहले यह जान लें कि इस शिफ्टिंग प्रक्रिया में आपका कितना पैसा खर्च होगा। चूंकि, यह एक अहम सवाल है, तो इसका जवाब जल्दबाजी में न ढूंढें। पूरी रिसर्च के बाद आराम से यह तय करें कि आपके कितने पैसे खर्च होंगे और क्या आप उतने खर्च के लिए वाकई तैयार हैं। एक बार जब आपको खर्च का पता चल जाएगा, तब आप उसी आधार पर बिजनेस को आगे ले जाने की प्लानिंग भी कर सकेंगे। ऐसा नहीं होना चाहिए कि शिफ्टिंग के चक्कर में आपके पास बिजनेस को चलाने के लिए पैसे ही न बचें।

अपने लूप में किसे रखना है?
जब भी आप अपने बिजनेस को दूसरी जगह शिफ्ट करने का फैसला करें, तो पहले यह तय कर लें कि आपको अपने बिजनेस लूप में किस-किस को रखना है। इसका मतलब यह है कि आप खुद से यह सवाल पूछें कि आपको किस पुराने डीलर से बिजनेस रखना है, कौन-कौन से एम्प्लॉइज को रखना है और किसे निकालना है। इससे आपको नई जगह बिजनेस जमाने में ज्यादा मुश्किलें नहीं उठानी पड़ेंगी। जब आपको यह पता होगा कि किन डीलर्स, वेंडर्स, एम्प्लॉइज के साथ आगे बढऩा है, तो आपको अपने बिजनेस को उसके लक्ष्य तक पहुंचाने में आसानी होगी।

Latest News