सफल मेंटॉर बनने के लिए सिर्फ अपने लक्ष्य पर फोकस रखना ही काफी नहीं होता। इसके साथ उन टीम मेम्बर्स की ग्रोथ पर भी फोकस रखना जरूरी है जो लगातार बेहतर परिणाम दे रहे हैं। कई कंपनियां एक टीम में से ही मेंटॉर को चुनती है जो उस टीम को लीड करता है। अगर आप भी एक सफल मेंटॉर बनना चाहते हैं तो कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है ताकि कंपनी को वह रिजल्ट दे सकें जो आपसे उम्मीद की जा रही है।

खुद भी उदाहरण पेश करें
टीम टार्गेट को हासिल कर सके, इसके लिए एक मेंटॉर को खुद भी ऐसे उदाहरण पेश करने होंगे, जिनसे साफतौर पर यह समझा जा सके कि उनमें वे सभी खूबी हैं जो एक मेंटॉर में होनी चाहिए। जैसे- हार्ड वर्किंग, लक्ष्य को तय समय सीमा में हासिल करने की कला और विपरीत परिस्थितियों में बेहतर निर्णय लेने की क्षमता आदि। बेहतर परिणाम देने पर उन्हें आगे बढ़ाना भी इनका ही काम है।

ये बातें भी रखें ध्यान
एक मेंटॉर में आइडिएशन और प्लानिंग के जरिए टीम मेम्बर्स को उनके लक्ष्य हासिल करने में मदद करने की कला होनी जरूरी है। इसके साथ ही समय-समय पर टीम का उत्साहवर्धन करना भी जरूरी है। बात-बात पर उनमें कमी निकालना एक अच्छे मेंटॉर के लक्षण नहीं होते। कमियों से उभरने के लिए प्रेरित करें। टीम मेम्बस की ओर से बेहतर परिणाम देने पर उन्हें आगे बढ़ाना भी इनका ही काम है।

Latest News