वैसे तो वॉट्सऐप में मैसेज वन टू वन एन्क्रिप्टेड हैं, लेकिन इसके बावजूद कई बार मैसेज लीक हो जाते हैं। जानें कैसे रखें इसे सुरक्षित-
टू स्टेप वैरिफिकेशन वॉट्सऐप में यह फीचर उनके लिए काम का है, जिन्हें डर है कि उनकी सिम की क्लोनिंग या सर्विस प्रोवाइडर द्वारा दूसरी सिम जारी होने पर उनका वॉट्सऐप कोई इंस्टॉल कर सकता है। इस फीचर को ऑन करने के बाद खास 6 डिजिट के पासकोड की जरूरत होती है। अकाउंट डबल प्रोटेक्ट हो जाता है।
द्धह्लह्लश्चह्य://ड्ढद्बह्ल.द्य4/ह्लद्गष्द्धद्दह्वह्म्ह्व३२१ कई बार वॉट्सऐप को लैपटॉप या डेस्कटॉप पर ब्राउजर में भी खोलने की सुविधा होती है जहां से अकाउंट हैक होने का खतरा रहता है।

फिंगरप्रिंट लॉक, सेटिंग्स
एंड्रॉइड पर वॉट्सऐप यूजर फिंगरप्रिंट लॉक सेट कर सकते हैं। वहीं,आइफोन यूजर्स के पास फिजिकल स्क्रीन बटन के मामले में फेस आइडी या टच आइडी का उपयोग करने का विकल्प है। इन्हें ऑन कर वॉट्सऐप की सुरक्षा बढ़ा सकते हैं। आप फोटो, अबाउट व स्टेटस की सेटिंग इस तरह बदल सकते हैं कि इन्हें कौन लोग देख सकते हैं। प्राइवेसी सेटिंग्स यूजर्स को यह चुनने का विकल्प देती हं ै कि उन्हें वॉट्सऐप ग्रुप में कौन जोड़ सकता है। सुविधा के अनुसार चुनकर अपने अकाउंट की सेटिंग बरकरार रख सकते हैं।

Latest News