Big Breaking: अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के पास एक औद्योगिक क्षेत्र में ड्रोन हमले’ में तीन ईंधन टैंकरों में विस्फोट के बाद सोमवार को अबू धाबी में 3 लोग मारे गए। जिनमें से दो भारतीय शामिल हैं। संयुक्त अरब अमीरात के अधिकारियों ने विस्फोट के पीछे ड्रोन हमलों का संदेह बताया है। अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर एक निर्माण क्षेत्र में भी आग लग गई। पुलिस ने डब्ल्यूएएम को दिए एक बयान में कहा, “शुरुआती जांच में एक छोटे विमान के कुछ हिस्से मिले हैं जो संभवत ड्रोन हो सकते हैं। टकराने के चलते आग से यह विस्फोट होने की संभावना है।

अबू धाबी नेशनल ऑयल कंपनी की सुविधा में हुए विस्फोटों में एक पाकिस्तानी नागरिक की भी मौत हो गई। हमले में छह अन्य भी घायल हो गए

औद्योगिक क्षेत्र, मुसाफा, राष्ट्रपति के महल से लगभग 20 किमी और अमेरिका और सऊदी दूतावासों से लगभग 10 किमी दूर स्थित है।

हौथियों ने यूएई में ‘सैन्य अभियानों’ की घोषणा की
यमन के ईरान-गठबंधन हौथी आंदोलन ने हमले की जिम्मेदारी ली है।

यमन के हौथी आंदोलन के सैन्य प्रवक्ता, जो सऊदी अरब के नेतृत्व में और संयुक्त अरब अमीरात सहित एक सैन्य गठबंधन से जूझ रहा है, ने कहा कि समूह ने “यूएई में गहरा” एक सैन्य अभियान शुरू किया और आने वाले घंटों में विवरण की घोषणा करेगा।

Latest News