मुम्बई में रहने वाले ११ वर्षीय कुशाल खेरमानी ने छोटी सी उम्र में बड़े अचीवमेंट हासिल किए हैं। कुशाल कक्षा ६ के स्टूडेंट्स हैं व दुनिया के ६ देशों की यात्रा कर चुके हैं। स्कूल के लिए १३ तरह की ऐप्लिकेशंस तैयार कर चुके हैं। महामारी में ऑनलाइन स्टडी के दौरान टीचर्स को आने वाली समस्या के समाधान के लिए कुशाल ने ४० दिन की ट्रेनिंग भी दी, ताकि तकनीक का बेझिझक प्रयोग कर सकें। कुशाल ने कोविड काल में १०० से अधिक ऑनलाइन सर्टिफिकेट कोर्स किए।

महामारी के दौरान कुशाल ने अपने दोस्तों को मोटिवेट करने के लिए ऑलस्पार्क नाम से यू-ट्यूब चैनल बनाया। इस चैनल के जरिए वो गरीब बच्चों को फ्री क्लासेस भी देते हैं।

पॉजिटिव डवलपमेंट के लिए किताब लिखी
कुशाल खुद के साथ दूसरों को आगे बढ़ाने में यकीन रखते हैं। इसी विजन के साथ इन्होंने ‘११ सीक्रेट्स टू पॉजिटिव डवलपमेंट इन स्टूडेंट्सÓ नाम से एक किताब लिखी। इस किताब में कुशाल ने यह समझाया है कि उन्होंने अलग-अलग फील्ड में कैसे सफलता पाई। अपनी उपलब्धियों का सारा क्रेडिट कुशाल अपने माता-पिता को देते हैं। इनके पिता गिरीश खेमानी आइटी एक्सपर्ट रहे हैं। मां कनक खेमानी एक हाउसवाइफ हैं।

टर्निंग पॉइंट
कु शाल ने ७ साल की उम्र से ऐप को डवलप करना सीखा। लोगों की प्रॉब्लम को सॉल्व करने के लिए कई ऐप्स डवलप किए। उन्होंने ऐसे लोगों के लिए ऐप तैयार किया, जो बोल नहीं सकते।

कवरिंग लेटर तैयार करते समय इन पर गौर करें
इंटरव्यू पर पड़ेगा असर
जॉब के लिए अप्लाई करते समय कवरिंग लेटर बेहद जरूरी है। इसे कैसे तैयार करते हैं, यह भी एक स्किल है। एक सर्वे के मुताबिक, ८३ फीसदी एचआर प्रोफेशनल मानते हैं कि एक अच्छा कवरिंग लेटर यह तय करने में मदद करता है कि कैंडिडेट को इंटरव्यू के लिए बुलाना है या नहीं।

गलती न करें
कम शब्दों में ज्यादा बातें कहने की कोशिश करें। कवर लेटर के लिए लिखे जाने वाले शब्दों को बेवजह न खीचें। इसमें वे बातें लिखें, जो रिज्यूमे में नहीं हैं और आप एचआर मैनेजर को बताना चाहते हैं। खासकर स्पैलिंग की मिस्टेक बिल्कुल न करें।

स्किल पर फोकस करें
कवरिंग लेटर लिखते समय ध्यान रखें कि इसमें वे स्किल्स लिखें, जो जॉब से जुड़ी हुई हंै यानी एचआर मैनेजर को साफ तौर पर बता सकें कि आप क्यों उस जॉब के लिए सबसे बेहतर कर्मचारी साबित हो सकते हैं। कवरिंग लेटर से एचआर मैनेजर आपको समझ सकेगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *