व्यापार में वैसे तो पूरी फैमिली शामिल होती है, लेकिन आप चाहें तो प्रभावी तरीके से बिजनेस में अपने परिजनों को शामिल करें। इस दौरान कुछ अहम बातों को ध्यान में रखना जरूरी है।

दूर के रिश्तेदारों से बचें
व्यापार में जितना हो सके, दूर के रिश्तेदारों को शामिल करने से बचें। आप परिजन को जोडऩे ही चाहते हैं तो खास रिश्तों को अहमियम दें। कई बार बिजनेस में यदि किसी बात को लेकर कुछ बोलना भी पड़े तो दूर के परिजन को नहीं बोल पाएंगे।

पैसों को अहमियत
ऐसे रिश्तेदार जो आपके बिजनेस में काम से ज्यादा पहले पैसों को अहमियत देते हों, उनसे जितना हो, बचें। उनका मुख्य उद्देश्य केवल पैसों का लेन-देन देखना होता है, न कि व्यापार की सफलता के लिए काम करना। सही रणनीति से कार्य करें।

बनें स्पष्टवादी
व्यापार में लगभग हर बात को सामने रखकर चलना होता है। ऐसे में बिजनेस में शामिल रिश्तेदारों से व्यापार से जुड़ी किसी भी तरह की बात को स्पष्ट रूप से बताएं। यदि वे किसी बात पर नाराज हों तो बेहद सावधानी से काम करें।

आइआइटी मद्रास में लॉन्च हुआ वाटर सेंटर
आइआइटी, मद्रास ने जलवायु परिवर्तन से निपटने के लिए नवीन अनुकूलन रणनीतियों को विकसित करने के लिए एक केंद्र स्थापित किया है। जर्मन एकेडेमिक एक्सचेंज सर्विस के सहयोग से स्थापित किए जा रहे ‘ग्लोबल वाटर एंड क्लाइमेट एडप्शन सेंटर’ को लॉन्च किया गया है। इसका उद्देश्य सक्षम मंच के रूप में काम करना होगा, जो अनुसंधान, प्रौद्योगिकी, उच्च शिक्षा व नॉलेज को ट्रांसफर करने के लिए प्रोत्साहित करेगा। इनोवेशन के रूप में ‘वाटर सिक्योरिटी एंड ग्लोबल चेंज’ पर एमएससी कोर्स भी अवधारित होगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *