डेटा का बैकअप लें
कुछ लोग अक्सर यह शिकायत करते हैं कि स्मार्टफोन को अपडेट करने पर फोन में मौजूद डेटा में गड़बड़ी हुई है। ऐसे में आप यदि इस समस्या का सामना नहीं करना चाहते हैं तो कोशिश करें कि एंड्रॉइड फोन को अपडेट पर लगाने से पहले उसमें डेटा का बैकअप जरूर ले लें। डेटा को यूएसबी केबल के जरिए कम्प्यूटर में भी ले सकते हैं।

बैटरी चार्ज करें
फोन को अपडेट करना हो या इसके सिस्टम को, इस प्रक्रिया के दौरान थोड़ा समय लगता है। इसलिए कोशिश करें कि अपडेट करने से पहले फोन को पूर्ण रूप से चार्ज कर लें। कई बार फोन अपडेट होने के दौरान चार्जिंग की अनुमति नहीं देता है। इसलिए कम से कम ७०-८० फीसदी फोन का चार्ज होना जरूरी है।

स्क्रीनशॉट्स जरूरी
स्मार्टफोन को अपडेट करने से पहले कोशिश करें कि होम स्क्रीन, ईमेल या कुछ जरूरी फोटो आदि का स्क्रीनशॉट ले लें। एंड्रॉइड लॉन्चर के अलावा किसी अन्य लॉन्चर के प्रयोग से होम स्क्रीन, आइकन के लुक आदि में बदलाव आ जाते हैं। ऐसे में कोशिश करें स्क्रीनशॉट लेकर रख लें ताकि अपडेट होने के बाद चेक कर सकें।

कम्प्यूटर से
करें डिस्कनेक्ट
स्मार्टफोन या सिस्टम को अपडेट होने में कई बार घंटों का समय भी लग जाता है। इस दौरान यदि आपने अपना फोन कम्प्यूटर से कनेक्ट कर रखा है तो उसे डिस्कनेक्ट कर दें। इससे स्मार्टफोन में मालवेयर आने की आशंका रहती है। इसके अलावा यदि किसी काम से जाना हो तो आप स्मार्टफोन को अपने साथ भी ले जा सकते हैं। इसके लिए भी आपको फोन कम्प्यूटर से डिस्कनेक्ट करना बेहद जरूरी है।

स्मार्टफोन को अपडेट करने से पहले आप चाहे तो सेटिंग में जाकर कैशे मैमोरी को भी क्लियर कर सकते हैं।
अपडेट होने के दौरान फोन को बार-बार न छेड़ें। इससे इसमें प्रॉब्लम आ सकती है।

फैक्टरी सेटअप
ज्यादातर लोगों का मानना है कि एंड्रॉइड फोन को अपडेट करने के बाद फैक्टरी सेटअप की जरूरत नहीं होती। हालांकि यह सही भी है। आप चाहें तो अपडेट होने के बाद केवल सिस्टम की कैशे मैमोरी को भी क्लियर कर देंगे तो इसकी स्पीड और परफॉर्मेंस में काफी हद तक फर्क दिखेगा। यह बेहद आसान तरीका है बैटरी ड्रेनेज बग को ढूंढकर उसे हटाने का। अपडेट होने के बाद जैसे ही आप सिस्टम में बैकअप लेते हैं तो उस समय अच्छा होगा कि आप कैशे मैमोरी को क्लियर कर दें। अपडेट होने के बाद सिस्टम को बूस्ट करें और बैकअप को रिस्टोर कर सकते हैं। इसके अलावा होम स्क्रीन को भी सेट कर सकते हैं। अपडेट करने के अलावा सिस्टम को समय-समय पर स्कैन भी करते रहें।

Latest News