बिजनेस के सिलसिले में आप रोज कई लोगों से मिलते होंगे। हालांकि, नए लोगों से मिलना हर किसी को पसंद नहीं होता, खासकर अगर वह शख्स अंतर्मुखी हो। ऐसे लोगों को नए लोगों से मिलना चुनौतीपूर्ण लगता है। उनके लिए नए दोस्त बनाना या नए रिश्ते बनाना आसान नहीं होता। क्या आप भी ऐसे ही लोगों में से हैं और क्या आप हमेशा ऐसे ही अंतर्मुखी बने रहना चाहते हैं? याद रखिए कि अगर आप अपने बिजनेस के लिए नए लोगों से नहीं मिलेंगे, उनसे व्यवहार नहीं रखेंगे तो आप अपने बिजनेस को आगे नहीं से जा सकेंगे। अगर आप सिर्फ पुराने लोगों के ही संपर्क में रहेंगे तो खुद को और अपने बिजनेस को सीमित कर लेंगे। नए लोगों से मिलने पर न सिर्फ आपको नई चीजें सीखने को मिलेंगी बल्कि आपको नए कस्टमर्स व क्लाइंट्स भी मिलेंगे। आइए, जानते हैं कि कैसे आप बिजनेस में मजबूत नए रिश्ते बना सकते हैं –

दूसरों की सराहना करें

अगर आपको बिजनेस में सफलता हासिल करनी है तो आपको दूसरों की तारीफ करना, उनके कामों की सराहना करना सीखना होगा। किसी की आलोचना करने से आप उसकी भावनाओं को ठेस पहुंचा सकते हैं जिससे आपके रिश्तों पर असर पड़ सकता है। जब भी आप नए लोगों से मिलें तो उनकी अच्छाइयों की तारीफ जरूर करें। इससे उन्हें अच्छा लगेगा और वह आपसे दोबारा मिलना चाहेंगे। यह लोग आपके भावी कस्टमर्स या क्लाइंट्स में से एक हो सकते हैं। वहीं, अगर आप हर किसी की आलोचना करेंगे और कमी निकालेंगे तो कोई आपसे नहीं मिलना चाहेगा।

कंफर्ट जोन से बाहर आएं
न ए लोगों से मिलने के लिए सबसे महत्त्वपूर्ण सलाह यह है कि नए लोगों से मिलने के लिए आपमें बाहर जाने, बात करने और बातचीत शुरू करने की हिम्मत होनी चाहिए। साथ ही, आपको घबराने के बजाय शांत रहने की भी जरूरत है। घबराहट आपके बिजनेस के लिए दुश्मन की तरह है। याद रखें कि अगर आप खुद पर यकीन करते हैं तो आप आराम से बिना हिचकिचाहट और घबराहट के अपने बिजनेस के लिए नए लोगों से मिल सकते हैं और नए रिश्ते बना सकते हैं। नए व मजबूत रिश्ते बनाने के लिए आपका व्यक्तित्व प्रभावशाली होना चाहिए। जब आप बिना झिझके किसी से बात करते हैं तो आपका आत्मविश्वास दिखाई देता है।

अगर आप सिर्फ पुराने लोगों के ही संपर्क में बने रहेंगे तो आप अपने आपको और अपने बिजनेस को सीमित कर लेंगे। इससे आप कभी सफलता की ओर नहीं बढ़ पाएंगे।

सोचें अगर आप बहुर्मुखी नहीं होंगे तो अपनी बात ठीक से नहीं कह पाएंगे, लेकिन बहुर्मुखी होने का मतलब मुंहफट हो जाना भी नहीं है।

पहला कदम बढ़ाएं
अधिकतर अंतर्मुखी लोगों को दूसरों से बात करने में हिचकिचाहट होती है इसलिए वह बात करने से बचते हैं, लेकिन जब तक आप आगे बढ़कर बात नहीं करेंगे, तब तक सामने वाले से बातचीत कैसे शुरू कर पाएंगे। अपने बिजनेस को आगे ले जाने के लिए खुद ही पहला कदम बढ़ाना होगा। बातचीत की पहल करने से आप नए लोगों से आराम से बात कर पाएंगे।

सबसे उत्साह से मिलें
अगर आप वाकई में दूसरों से मिलने में उत्साह दिखाते हैं तो आप अपने लिए आसानी से दोस्त बना सकते हैं और उनके साथ बेहतर रिश्ते बनाते हैं। जब आप किसी से मिलें तो उत्साह के साथ मिलें। ऐसा करने से सामने वाले को भी अच्छा लगेगा और आप दोनों के बीच एक सकारात्मक रिश्ता बनेगा, जो बिजनेस के लिए अच्छा है।

अहमियत की भावना लाएं
हर कोई चाहता है कि उसे अहमियत दी जाए। आखिर हर कोई अपनी तारीफ सुनना चाहता है और जब आप उनकी यह इच्छा पूरी करते हैं तो मार्केट में लंबे समय तक टिके रहते हैं। हालांकि, याद रखें कि ऐसा करते समय सामने वाले को यह नहीं लगना चाहिए कि आप केवल काम निकालने के लिए झूठी तारीफ कर रहे हैं।

चेहरे पर मुस्कुराहट रखें
न ए लोगों पर अच्छा प्रभाव डालने का सबसे आसान तरीका है मुस्कुराना। जब आप किसी से मुस्कुराकर मिलते हैं तो उसे लगता है कि आप उससे मिलकर और उसकी मौजूदगी से खुश हैं। इससे वह भी खुश हो जाता है। इससे आप दोनों के बीच अच्छा रिश्ता बन सकता है जो बिजनेस में मददगार साबित हो सकता है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *