jailalita death or murder

नई दिल्ली : अभिनेत्री गौतमी ने तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता के निधन पर कई सवाल उठाए हैं। उनका  कहना है  कि आखिर उनके निधन पर इतनी ज्यादा  गोपनीयता किस कारण बरती गई?

 गौतमी ने अपने स्वयं के आधिकारिक ब्लॉग पर इस मुद्दे पर एक पोस्ट के माध्यम से  लिखा है। उन्होंने प्रधानमंत्री  मोदी को संबोधित करते हुए ये पोस्ट लिखा है, जिसमें तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री  जयललिता के निधन के दौरान बरती गई गोपनीयता पर कई  सवाल रखे  हैं।

यह भी पढ़ें : अब बिना सिमकार्ड बदले मनचाहे नम्बरों से करें कॉल : यह है तरीका

 इस ब्लॉग के द्वारा  पीएम मोदी से  जांच की अपील की है। साथ ही  सवाल उठाए कि आखिर जयललिता के अंतिम  दिनों में इसकदर गोपनीयता क्यों बरती गई, ये बहुत ही गंभीर मामला है?
गौतमी ने पीएम मोदी का ध्यान अपनी और आकर्षित करते हुए कहा कि  मेडिकल बुलेटिन में तो यह कहा जा रहा था कि जयललिता ठीक हो रही है। और इलाज के दौरान वो ठीक से व्यवहार भी  कर रही हैं।
गौतमी ने यह भी सवाल उठाया कि 4 दिसंबर रात को को अचानक मेडिकल बुलेटिन जारी होता है जिसमें कहा जाता है कि उन्हें दिल का दौरा पद गया  है। और  बाद में 5 दिसंबर रात  को जानकारी दी जाती है कि अब वो हमारे बीच नहीं रही।
गौतमी ने इसी बात को लेकर सवाल खड़ा किया है और प्रधानमंत्री  से इस मामले की  जांच करवाने की अपील की है। बता दें कि अभिनेत्री गौतमी उस समय बहुत  चर्चा में आई थी जब उन्होंने लिव-इन पार्टनर और सुपरस्टार कमल हसन से अलग होने फैसला लिया था । कमल हसन से भी अलग होने के  तीन दिन पहले गौतमी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात कर चुकी  थी।

 क्या लिखा गौतमी ने पीएम मोदी को पत्र में ?
गौतमी ने प्रधानमंत्री  को संबोधित करते हुए जो अपने ब्लॉग  लिखा उसकी अहम बातें निम्न हैं…
गौतमी ने लिखा कि मैं ये पत्र भारत की आम नागरिक के तौर पर लिख रही हूं। मैं एक घर चलाने वाली महिला हूं, एक मां हूं और एक कामकाजी महिला हूं।

गौतमी ने  लिखा कि मैं उन करोड़ों लोगों में से एक हूं जो  हाल ही में तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता के अचानक निधन से सदमे में है । वह भारतीय राजनीति की बहुत बड़ी शख्सियत थी और हमेशा महिलाओं को आगे बढ़ने के लिए प्रभावित  करती थी। जयललिता के  नेतृत्व में तमिलनाडु लगातार विकास की ओर अग्रसर रहा।
 उनका यह भी कहना है  कि उनका हमें छोड़कर जाना बहुत ही  दुखद और चौंकाने वाला रहा। यह  पिछले कुछ महीने के दौरान हुई घटना की वजह से है। जब तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता  पिछले कुछ महीने से अस्पताल में थी। उनका इलाज और उनके ठीक होने की खबर उसके बाद फिर अचानक से   दिल का दौरा और फिर आखिर  निधन की खबर कई सवाल खड़े करती है।

 यह भी पढ़ें : किस तरह के पुरुषों की और आकर्षित होती है लड़कियां। क्या होती है पसंद

Latest News