ajeet doval action on indian air strike on pakistan balakot
ajeet doval action on indian air strike on pakistan balakot

Air Strike On Pakistan : भारत ने पाकिस्तान पर कार्यवाही करते हुए मंगलवार सुबह तड़के 3.30 बजे जैश के आतंकी ठिकानों को निशाना बनाया। जैश के ठिकाने तबाह करने के बाद मरने वाले आतंकियों के आंकड़े अभी तक सामने नहीं आये है। अंदाजा लगाया जा रहा है कि 300 के करीबन आतंकी मारे जा चुके है। आतंकियों में जैश के कमांडर और ट्रेनर भी मारे जा चुके है। सुबह नमाज से पहले ही उन्हें अपने कारनामों का फल भुगतने के लिए जहन्नुम नहीं भेज दिया गया है। भारत ने ग्वालियर से इंडियन एयरफोर्स के 12 मिराज फाइटर जेट प्लेन उड़ाए और पीओके समेत 80 किमी दूर तक पाकिस्तान के 50 किमी अंदर जाकर जैश के आंतकी ठिकानों को तबाह कर दिया। एयरफोर्स ने लगाताार बमबारी करते हुए मात्र 21 मिनट में ही 1000 किलो के बम गिराए हैं। जैश का कंट्रोल रूम अल्फा-3 उड़ा नष्ट कर दिया गया है। इस एयर स्ट्राइक में 200 से 300 आतंकी मारे जा चुके है। जवाबी कार्यवाही मानें या भारतीय लड़ाकों को रोकने के लिहाज से पाकिस्तान के एफ-16 लड़ाकू विमान ने भी इंडियन टैरेटरी में घुसने की कोशिश की थी, लेकिन भारतीय वायुसेना ने उसे विफल कर दिया।

शहीदों की तेरहवीं पर उन्हें वायुसेना ने दी सच्ची श्रद्धांजलि
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, एयरफोर्स के फाइटर जेट ने पंजाब के आदमपुर से टेकऑफ किया था और कुछ रिपोर्टों में बताया गया है की ग्वालियर से उड़ान भरी थी। फाइटरजेट पीओके में तबाही मचाने के साथ ही पाकिस्तान के 50 किमी अंदर तक घुस गए। बालाकोट, चकोटी, मुजफ्फराबाद में जैश-ए-मोहम्मद के ठिकाने तबाह कर दिए गए। बताया जाता है कि आईएसआई ने जैश के सरगना मसूद अजहर को रावलपिंडी से बहावलपुर कड़ी सुरक्षा में भेज दिया गया है।

दूसरी बार सर्जिकल स्ट्राइक
उरी हमले के बाद भारत ने यह सर्जिकल स्ट्राइक की है पीओके में घुसकर आतंकियों के कैम्प तबाह पहले भी किए जा चुके है। ये ऑपरेशन बेहद ही सीक्रेट था। इसकी खबर सिर्फ सात लोगों को थी। ये ऑपरेशन दो घंटे में खत्म कर दिया गया। पहले भी सर्जिकल स्ट्राइक की गई जिमें उस वक्त पीओके में 42 आतंकी कैंप एक्टिव थे।

https://www.youtube.com/watch?v=FC0-LgoKhN8

अजीत डोभाल की निगरानी में हुआ एयर स्ट्राइक Air Strike On Pakistan
सूत्रों के मुताबिक़ खुफिया जानकारी के अनुसार पीओके में आतंकी कैम्पों पर वायु सेना की यह कार्यवाही राष्ट्रिय सलाहकार अजीत डोभाल की निगरानी में हुई। पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा में वायुसेना हमले को अंजाम दिया गया। य़े पूरी कार्रवाई राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल की देखरेख में संपन्न हुई। अजीत डोभाल जैसे लोग जब तक भारत के पास मौजूद है तब तक सरकार चाहे उस घटना को अंजाम दिया जा सकता है। पाकिस्तान में सालों बिताने वाले अजीत को खुद पाकिस्तान भी नहीं जान पाया था।

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहाकार अजीत डोभाल ने ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस कार्रवाई के बारे में जानकारी दी है। इस बीच, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाकार, वित्त मंत्री अरुण जेटली के साथ पीएम मोदी के घर CCS की बैठक हुई है। इस बैठक में आगे की रणनीति और पाक द्वारा अगले कदम पर चर्चा हुई। पाकिस्तान पर की गई कार्यवाही के जवाब में कार्रवाई की कोशिश कर पाक सकता है। अजीत डोभाल के पास वो सभी पैंतरे है जो आतंकियों को नेस्तनाबूत करने के साथ ही ख़ुफ़िया एजेंसियों के रडार से भी बच सकते हैं।

Latest News