modi foreign

विदेश यात्रा खर्च में भी यूपीए सरकार आगे! मोदी से ज्यादा मनमोहन ने किये खर्च 

पुरे देश में प्रधानमंत्री की यात्राओ  के खर्च को  लेकर विपक्ष और जनता में आलोचनाएँ झेलनी पद रही है विपक्ष इस मुद्दे को लेकर जनता में प्रधानमंत्री पर हमला बोलता है। लेकिन आंकड़ों को देखकर पता चलता है की यूपीए सरकार  के समय खर्चा ज्यादा हुआ। सुचना के अधिकार के तहत मिले आंकड़ों के आधार पर प्रधानमंत्री की कुल 16 देशो की यात्राओं पर 37. 22 करोड़ रूपए खर्च आया। वहीँ मोदी ने जून 2014 से जून 2015 तक एक साल के अंदर 20 देशो की यात्रा की मगर चार देशों के भारतीय दूतावास ने खर्च की जानकारी नहीं दी है।  लोकेश बत्रा ने आरटीआई से सुचना के बाद बताया की फ्रांस , जापान , दक्षिण  कोरिया और श्रीलंका में हुए खर्च की जानकारी नहीं मिली।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की यात्रायें जर्मनी, चीन,फिजी,यूएस और ऑस्ट्रेलिया  काफी महँगी रही। वहीँ भूटान की यात्रा सबसे सस्ती रही। इस भूटान की यात्रा के दौरान सिर्फ खर्चा 41.33 लाख रूपए  ही आया। प्रधानमंत्री मोदी की ऑस्ट्रेलिया की  यात्रा के दौरान उनके और उनके साथ आये प्रतिनिधियों का होटल में रुकने तक खर्च 5.60 करोड़ रूपए हुआ इसके अलावा वह जो कारें इस्तेमाल की गई उनका खर्च 2.40 करोड़ रूपए।
नरेंद्र मोदी की महँगी विदेश यात्रा :- अमेरिका में किया गया खर्च – 6.13 करोड़ रूपए
ऑस्ट्रेलिया में किया गया खर्च – 8.91  करोड़ रूपए
चीन में किया गया खर्च – 2.34 करोड़ रूपए
फिजी में किया गया खर्च -2.59 करोड़ रूपए
जर्मनी में किया गया खर्च -2.92  करोड़ रूपए     

वहीँ पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की विदेश यात्राओं पर कुल खर्च 10 साल के कार्यकाल में 676 करोड़ रूपए किये गए।
जिनमे मनमोहन सिंह की मेक्सिको और ब्राजील की यात्रा रही जिसका कुल खर्च 26.9 करोड़ रूपए हुआ।
पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने अपने कार्यकाल में कुल 36 देशों की यात्रायें की जिनमे सबसे महँगी फ्रांस 24.1 करोड़ रूपए, इटली 14.5 करोड़ रूपए  क्यूबा 15.6 करोड़ रूपए, रूस  13.4 करोड़ रूपए  खर्च आया था।

Latest News