Friday, January 27, 2023
HomeSportsपूर्व पाकिस्तानी कप्तान ने Suryakumar Yadav पर साधा निशाना, कहा “अगर सूर्या...

पूर्व पाकिस्तानी कप्तान ने Suryakumar Yadav पर साधा निशाना, कहा “अगर सूर्या पाकिस्तान में होते…”

नई दिल्ली: भारत-श्रीलंका के बीच शनिवार को राजकोट खेले गए तीसरे टी 20 मैच में सूर्यकुमार यादव ने धुआंधार बल्लेबाजी करते हुए क्रिकेट प्रेमियों के रौंगटे खड़े कर दिए। तीसरे और निर्णायक मैच में भारत ने 91 रनों की शानदार पारी खेलते हुए सीरीज पर 2-1 से जीत हासिल की। टीम इंडिया की इस धमाकेदार जीत की सफलता का ताज तूफानी बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव के सिर पर सजा। उन्होंने विस्फोटक बल्लेबाजी करते हुए 51 गेंदों में 7 चौके-9 छक्के जड़कर 219.61 की स्ट्राइक रेट से नाबाद 112 रन जड़े।

सूर्या की इस बेहतरीन बल्लेबाजी के सामने विरोधी टीम ने भी घुटने टेक दिए। लेकिन एक खिलाड़ी के लिए सूर्या गले की हड्डी बनकर उभरते नजर आए। पाकिस्तान के पूर्व कप्तान सलमान बट ने उनके खिलाफ एक बड़ा बयान देते हुए तंज कसा।

सलमान बट ने दिया ये बयान

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) पर निशाना साधते हुए पूर्व कप्तान सलमान बट ने कहा कि अगर सूर्यकुमार यादव पाकिस्तान में होते तो 30 साल की उम्र में राष्ट्रीय टीम का हिस्सा बनना मुश्किल होता. इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) में अपने प्रभावशाली प्रदर्शन के दम पर सूर्यकुमार यादव ने 2021 में इंग्लैंड के खिलाफ 30 साल की उम्र में इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू किया”।

इतना ही नही सूर्यकुमार यादव Suryakumar Yadav के शानदार परफॉर्मेंस को देखकर जब पूर्व खिलाड़ी गौतम गंभीर Gautam Gambhir ने ट्वीट करके सूर्यकुमार यादव Suryakumar Yadav को टेस्ट क्रिकेट टीम में शामिल करने की मांग की थी। तो इस पर आकाश चोपड़ा Aakash Chopra ने भी इसका तड़ाकेदार जवाब देते हुए कहा था कि टी-20 प्रदर्शन के आधार पर टेस्ट टीम में सूर्यकुमार यादव का चयन करना सही नहीं होगा, आइए जानते हैं उन्होंने आगे और क्या कुछ कहा।

जैसे ही गौतम गंभीर Gautam Gambhir ने सूर्यकुमार यादव Suryakumar Yadav की तस्वीर ट्विटर पर पोस्ट की और उसके कैप्शन में लिखा कि, “सूर्यकुमार यादव को अब टेस्ट टीम में शामिल किया जाना चाहिए।” इसके बाद इस ट्वीट के शेयर होते ही खिलाड़ियों और प्रशंसकों ने अपनी अलग-अलग राय दी। कई फैंस ने तो गौतम गंभीर पर जमकर निशाना साधा था और कहा कि अगर t20 के आधार पर टेस्ट में में चयन होने लगे तो फिर उन खिलाड़ियों का क्या होगा जो घरेलू क्रिकेट खेल कर पसीना बहा रहे हैं। कई लोगों ने पृथ्वी शॉ, सरफराज खान, हनुमा विहारी जैसे बल्लेबाजों का उदाहरण दिया था।

अब इस मामले में पूर्व क्रिकेटर और कमेंटेटर आकाश चोपड़ा Aakash Chopra ने अपनी राय व्यक्त की है। अपने चैनल पर बात करते हुए आकाश चोपड़ा ने कहा कि, “अगर कोई खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन करता है तो हमें जुनूनी नहीं बनना चाहिए। हम सभी लोगों में यही आदत खराब है जब भी हम किसी खिलाड़ी को एक दो मैच में बहुत अच्छा करते देखते हैं तो उसी की मांग हर खेल के लिए करने लगते हैं,उसे सारे प्रारूप में खिलाया जाए। हमने ऋषभ पंत Rishabh Pant के साथ भी ऐसा ही किया शुभमन गिल Shubhman Gill के साथ हम ऐसा कर रहे हैं और अब सूर्यकुमार यादव Suryakumar Yadav के साथ भी। जबकि टेस्ट और टी-20 में बहुत ज्यादा अंतर है।”

आकाश चोपड़ा ने अपनी बात आगे जारी रखते हुए कहा कि, “इस साल वनडे विश्व कप होना है और टी20 विश्व कप भी अभी दूर है। सूर्यकुमार यादव ने अब तक टेस्ट क्रिकेट नहीं खेला है और ना ही प्रथम श्रेणी क्रिकेट में बहुत ज्यादा ज्यादा अच्छा प्रदर्शन उन्होंने किया है हालांकि एक शतक उनके नाम है। पर इसके बाद भी मैं सूर्यकुमार यादव का बहुत बड़ा प्रशंसक नहीं हूं अगर सूर्यकुमार यादव तीनों प्रारूप खेलते हैं तो यह उनके फिटनेस के लिए भी अच्छा नहीं होगा और चोटिल होने का खतरा बढ़ जाएगा। ऐसे में मेरा मानना है सूर्यकुमार यादव को अभी सिर्फ वनडे और टी-20 पर ही फोकस करना चाहिए।”

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments