Alwar Lok Sabha Election 2019 Rajasthan,
Alwar Lok Sabha Election 2019 Rajasthan,

Alwar Lok Sabha Election 2019 राजस्थान में लोक सभा चुनाव की बात करें तो अजमेर और अलवर उपचुनाव के दौरान दोनों ही कांग्रेस को हासिल हुई है। राजस्थान में 25 लोक सभा सीटें भाजपा की झोली में गई थी। अलवर लोक सभा में चुने गए सांसद महंत चाँद नाथ के निधन के पश्चात उप चुनाव में कांग्रेस के डॉ.करण सिंह यादव ने जीत का परचम लहराया। अलवर में डॉ.करण सिंह यादव ने कुल 6,42,416 मत हासिल किये जो पिछली बार की तुलना में 23.72 बढ़ोतरी थी। भाजपा के प्रतिद्वंदी जसवंत सिंह यादव ने 4,45,920 मत हासिल किये थे। महंत चाँद नाथ ने मोदी लहर में केंद्रीय मंत्री रहे भंवर जितेंद्र सिंह को हराया था।

Alwar Lok Sabha Election 2019 Rajasthan की बात करें तो इसबार दस विधानसभा सीटों में से 3 पर भाजपा ने जीत हासिल की है। देखा जाए तो राजस्थान में कांग्रेस द्वारा किये गए वादे भी लोक सभा चुनाव 2019 में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। अलवर लोक सभा चुनाव में इस बार कांग्रेस के चेहरे भंवर जितेंद्र सिंह हो सकते हैं। उप चुनाव में मनभेद के चलते भंवर जितेंद्र सिंह ने करण सिंह यादव के नाम पर मुहर लगाई थी। इसबार भंवर जितेंद्र सिंह के मैदान में होने से कांग्रेस जीत दर्ज कर सकती है। राजस्थान लोक सभा चुनाव में इसबार भाजपा को आधी सीटें ही मिलने के आसार लगाए जा रहे है। कुछ विशेषज्ञों की मानें तो भाजपा के पास अलवर में कोई दमदार चेहरा नहीं है। अलवर राजनीती में भाजपा किसी नए चेहरे पर दांव लगा सकती है। राष्ट्रिय स्वयं सेवक संघ दृष्टि से अलवर विभाग है। अलवर लोकसभा चुनाव में RRS मुख्य भूमिका निभाता है।

RSS Role In Alwar Lok Sabha Election 2019
राष्ट्रिय स्वयं सेवक संघ भारतीय राजनीती में भाजपा के पक्ष में भूमिका निभाता है। देखा जाए तो नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री घोषित करने से लेकर मुख्य कार्यों पर आरएसएस प्रमुख की सलाह और मार्गदर्शन लिया जाता है। कांग्रेस के पास चार विधानसभा सीटें हैं। मोदी लहर इसबार भी असर दिखाएगी लेकिन कामयाबी शायद हासिल हो, इसके पीछे बहुत से कारण है जो जनता में बुरे असर डाले हुए है। GST जनता के लिए दुखदायी बना हुआ है वहीं नोटबंदी ने भी जनता को रुलाया है। अलवर में इस बार चुनाव 2019 जाती गत आंकड़ों पर लड़ा जा सकता है। पिछला चुनाव धर्म आधार पर जनता ने लड़ा, मोदी भक्ति और लहर ने देश की बागडोर भाजपा के हाथों में सौंपी थी। अलवर लोक सभा कांग्रेस प्रत्याशी के तौर पर भंवर जितेंद्र सिंह मैदान में होंगे वहीँ अलवर लोक सभा भाजपा प्रत्याशी के चेहरे विचार किया जाएगा। नया चेहरा मैदान में उतारा जा सकता है।

Latest News