टीम इंडिया के पूर्व कोच रवि शास्त्री ने भारतीय टीम के खिलाडियों को लेकर कहा है कि खिलाड़ी अब काफी जल्दी यह चुनना शुरू कर देंगे कि वे किस फॉर्मेट में खेलना चाहते हैं। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि हार्दिक पांड्या 2023 के विश्व कप के बाद में वनडे क्रिकेट से संयास ले लेंगे। रवि शास्त्री ने यह कहा कि खिलाड़ी लोग जल्दी ही अपने खेलने के प्रारूपों का चयन कर लेंगे। पांड्या का उदहारण उन्होंने इसी क्रम में देते हुए कहा कि वह ऑलराउंडर टी20 खेलना चाहता है ओर इसको लेकर वह स्पष्ट भी है।

रवि शास्त्री ने 50 ओवर के बड़े मैच के बारे में चिंता जताते हुए कहा “50 ओवर का प्रारूप तब भी जीवित रह सकता है जब आप सिर्फ विश्व कप पर ध्यान दें। आईसीसी के दृष्टिकोण से विश्व कप को सबसे ज्यादा महत्व दिया जाना चाहिए। टेस्ट क्रिकेट हमेशा अपने महत्व देने के कारण बना रहेगा।” रवि शास्त्री ने हार्दिक पंड्या के बारे में आगे कहा कि वे फिलहाल 50 ओवर का मैच ही खेलेंगे क्यों की अगले साल इ विश्व कप का प्रारंभ हो रहा है। इसके बाद आप उनको उसे छोड़ता हुआ देख सकते हैं। अन्य खिलाड़ी भी शायद ऐसा ही करेंगे। खिलाड़ी किस प्रारूप में खेलना चाहते हैं। यह चुनना उनका अधिकार है।

रवि शास्त्री ने अंतरराष्ट्रीय और फ्रेंचाइजी क्रिकेट के बीच की बहस पर भी अपने विचार रखें। उन्होंने कहा “टी-20 लीग को ज्यादा महत्व मिलता दिखाई पड़ रहा है। इसके लिए प्रशासकों को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कटौती करनी होगी। फिलहाल वास्तविकता पर ध्यान देने की जरुरत है। मेरे जैसे पूर्व खिलाड़ी कुछ बातें 5-10 साल पहले से कहते आये हैं। यदि आप वास्तविकता पर ध्यान नहीं देंगे तो आपको अब तक का सबसे तगड़ा झटका लगने वाला है।”

Latest News