latest news robert vadra
latest news robert vadra

Robert Vadra Property रॉबर्ट वाड्रा से ED पूछताछ कर रही है लेकिन कुछ हासिल नहीं हो रहा। अभी पूछताछ का दौर खत्म नहीं हुआ है, उन्हें एक बार फिर शनिवार को ईडी के समक्ष पेश होना है। बताया जा रहा है कि लंदन की प्रॉपर्टी को लेकर एक खुलासा हुआ है। मनी लॉन्ड्रिंग केस में प्रवर्तन निदेशालय की पूछताछ झेल रहे कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के पति रॉबर्ट वाड्रा से जुड़े मामले में अहम जानकारी सामने तो आई है। ईडी रॉबर्ट वाड्रा से लंदन की जिस प्रॉपर्टी के नाम पर उनसे बात कर रही है, दरअसल वो फ्लैट एक ब्रिटिश फेमिली के नाम पर है। लंदन के उस फ्लैट से रॉबर्ट वाड्रा किसी प्रकार का कोई लेना-देना नहीं है।

दरअसल, ईडी का दावा है कि लंदन के ब्रायनस्टोन स्क्वायर में यह फ्लैट रॉबर्ट वाड्रा का ही है, जिसे उन्होंने अवैध तरीके से वहां खरीदा है। लेकिन पता लगा कि ये फ्लैट तो रॉबर्ट वाड्रा का नहीं, बल्कि एक ब्रिटिश फॅमिली के नाम पर रजिस्टर है। फ्लैट के रजिस्ट्री कागजात भी एक मीडिया के पास मौजूद हैं, जिसमें वाड्रा का नाम कहीं पर भी अंकित नहीं है। गौरतलब है कि मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में कोर्ट के आदेश पर रॉबर्ट वाड्रा ईडी के सामने पेश हुए हैं। ईडी ने रॉबर्ट वाड्रा से पहले ही दिन करीब 6 घंटे और दूसरे दिन तकरीबन 8 घंटे तक पूछताछ की। जिसमें लंदन में उनकी अवैध संपत्ति का जिक्र भी किया गया। ईडी के मुताबिक, लंदन में वाड्रा के दो लग्जरी हाउस के अलावा कुछ फ्लैट भी हैं।

ईडी ने ब्रायनस्टोन स्क्वायर में जिस फ्लैट का जिक्र किया, वो रॉबर्ट वाड्रा के नाम न होकर एक ब्रिटिश जोड़े के नाम है जो अभी खाली है। बता दें कि उस इलाके में बहुत से फ्लैट हैं, जहाँ पर एक फ्लैट की कीमत 2001 के समय में 10 करोड़ रुपये की आंकी गई है। हालांकि, अब ये कीमत करीब 23-25 करोड़ रुपये तक पहुंच गई है।

आपको बता दें कि रॉबर्ट वाड्रा के खिलाफ लंदन के 12 ब्रायंस्टन स्क्वायर पर स्थित एक संपत्ति की खरीद को मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों से जोड़कर चल रहा केस है। यह प्रॉपर्टी 19 लाख पाउंड में पहले खरीदी गई थी और इसका मालिकाना हक़ रॉबर्ट वाड्रा के पास है।

संपत्ति को 19 लाख पाउंड में संजय भंडारी ने खरीदकर 2010 में इसे इतनी ही राशि में बेच दिया, जबकि उसकी मरम्मत, साजसज्जा पर करीब 65,900 पाउंड खर्च भी किया गया था, बावजूद इसके खरीद दाम में ही प्रॉपर्टी रॉबर्ट वाड्रा को बेची गई बताया गया।

सीक्रेट ईमेल होने का भी दावा!

प्रवर्तन निदेशालय दावा करता है कि रॉबर्ट वाड्रा ने संजय भंडारी के रिश्तेदार सुमित चड्ढा को E-mail भी खरीद फरोख्त से संबंधित किए थे। सुमित चड्ढा ने भी संजय भंडारी और रॉबर्ट वाड्रा को इसका अच्छे से जवाब दिया था। जिसके जवाब में रॉबर्ट वाड्रा ने प्रॉपर्टी खरीद को लेकिर निर्देश दिए थे. ED का दावा कि उन्होंने वाड्रा के सभी ईमेल को बहुत पहले से ही ट्रैक किया है. सूत्रों की मानें तो आज रॉबर्ट वाड्रा को ED ने सभी ईमेल और अन्य दस्तावेज दिखाए गए हैं।

गौरतलब है कि अदालत ने रॉबर्ट वाड्रा को 16 फरवरी तक गिरफ्तारी से छूट दी है, लेकिन साथ ही ईडी के समक्ष पूछताछ के लिए पेश होने को कहा था। ईडी के 3 वरिष्ठ अधिकारियों की टीम रॉबर्ट वाड्रा से पूछताछ कर रही है, जिसका नेतृत्व डिप्टी डायरेक्टर राजीव शर्मा के पास है।

Latest News