इको फ्रेंडली घर कैसे बनाएं
इको फ्रेंडली घर कैसे बनाएं

विस्थापितों के रहने लिए टेंट ही विकल्प होते हैं, लेकिन मौसम के बिगडऩे पर सीधा असर इनमें रहने वाले लोगों पर होता है। विस्थापितों को इससे बचाने के लिए इराक की इराक रिस्पॉन्स इनोवेशन लैब ने खास तरह के घर तैयार किए हैं। इन ईको फ्रेंडली घरों को रॉकवूल से तैयार किया गया है। लैब का दावा है कि ये सेमीपर्मानेंट घर हैं, जो न तो आम घरों की तरह स्थायी रूप से पक्के होते हैं और न ही इनमें मौसम का अधिक असर पड़ता है। इस खास उपलब्धि के लिए लैब को हनी बी नेटवर्क क्रिएटिविटी इन्क्लूसिव इनोवेशन अवॉर्ड 2020 दिया गया।

98 प्रतिशत तक प्लास्टिक फ्री हैं यह घर। यह दावा लैब की ओर से किया गया है।
80 प्रतिशत तक मैटेरियल स्थानीय तौर पर तैयार करके इस घर को बनाया गया है।

स्थानीय मैटेरियल से बना

लैब के मुताबिक, यह घर 98 फीसदी तक प्लास्टिक फ्री है। इस तरह से घर, स्कूल, कम्युनिटी सेंटर तैयार किए जा सकते हैं। यह सुरक्षा के लिए लिहाज से काफी बेहतर हैं। इसे बनाने में 80 फीसदी स्थानीय स्तर पर तैयार मैटेरियल का इस्तेमाल किया गया है।

टेंट के मुकाबले सस्ता

लैब के अनुसार, विस्थापितों के लिए तैयार ये घर टेंट की तरह कम कीमत वाले व घर की तरह मजबूत हैं। आसानी से तैयार होने वाले ये घर मौसम के असर से बचाते हैं।

आग, भूकंप व तूफान झेल सकेंगे

लैब का दावा है कि यह घर कई मायनों में खास है। यह घर आग, भूकंप, आंधी और तूफान के असर को झेल सकेंगे। इनमें लॉक करने वाले दरवाजे भी लगाए गए हैं। एक टेंट आमतौर पर २ साल ही चल पाता है, लेकिन ये घर १५ साल से अधिक समय तक टिकते हैं। इसके अलावा इनमें वार्षिक मेंटिनेंस की जरूरत नहीं पड़ती और इनमें से आवाज बाहर नहीं जाती। इसलिए भीड़ या बड़ी संख्या वाले क्षेत्रों में रहने पर शोर की गुंजाइश कम रहती है। यह पूरी तरह से ईको फ्रेंडली हैं और इन्हें तैयार करने में किसी तरह की लकड़ी का इस्तेमाल नहीं किया गया है। इसलिए यह कई मायनों में यह खास है।

Latest News