जया किशोरी आज किसी पहचान की मोहताज नहीं हैं। भागवत कथाकार ने रूप में उन्होंने अपनी बड़ी पहचान बनाई है। मात्र 20-22 वर्ष के रूप में वे इतनी लोकप्रिय हो गई हैं कि उनके फॉलोअर्स की संख्या लाखों में पहुंच चुकी है। ख़ास बात यह है कि वे सोशल मीडिया पर भी एक्टिव रहती हैं तथा उसके माध्यम से वे अपने फॉलोअर्स को मोटिवेट करने का कार्य करती रहती हैं। यहां हम उनके कुछ मोटिवेशनल कोट्स को आपके सामने रख रहें हैं। जिनसे आपको जीवन संबंधी काफी ज्ञान प्राप्त होगा।

जया किशोरी के मोटिवेशनल कोट्स

1 . “महात्वाकांक्षाएं आसमान छूने के लिए सीढ़ी का काम करती हैं।”

जया किशोरी ज ने यहां महात्वाकांक्षाओं को जीवन में ऊंचा उठने के लिए महत्वपूर्ण बताया है। यह सही भी है। जब तक आपके जीवन में महात्वाकांक्षाएं नहीं होंगी आप अपने जीवन के स्तर को ऊंचा उठाने के बारे में विचार नहीं कर सकते हैं। बस आपकी महात्वाकांक्षाएं सकारात्मक होनी आवश्यक हैं।

2 . “जो जल्दबाजी करता है वो सम्मान के साथ नहीं चल सकता।”

जया किशोरी यहां जल्दबाजी को सही नहीं मानती हैं। आप यदि किसी भी कार्य में जल्दबाजी करते हैं तो वह बिगड़ जाता है। अतः किसी भी कार्य में जल्दबाजी करना सही नहीं होता।

3 . “वह जो दूसरे से ईर्ष्या करता है उसे मानसिक शांति नहीं मिलती है।”

ईर्ष्या एक प्रकार का मानसिक विकार है। यह आपके मन में यदि किसी के भी प्रति रहेगी तो आपका मन उस व्यक्ति के प्रति हमेशा घृणा से भरा रहेगा। अतः आप कभी मानसिक शांति को प्राप्त नहीं कर सकते हैं। शांति पाने के लिए आपको अपने मन से घृणा तथा ईर्ष्या को बाहर निकालना पड़ेगा।

4 . “सुख को महसूस तब तक नहीं कर सकते जब तक दुख का अनुभव ना हुआ हो।”

जिस प्रकार से आप शीतलता का अनुभव तब तक नहीं कर सकते हैं। जब तक आपको गर्मी का अहसास नहीं होता। वैसे ही आप बिना जीवन में दुःख को अनुभव किये सुख का अनुभव नहीं कर सकते हैं।

5 . “आज के वक्त में सबसे बड़ा संघर्ष खुद को खुश रखना है।”

आज के समय में बहुत से लोग आपको खुश देखना ही नहीं चाहते हैं। इसके अलावा कई परिस्थितियां भी ऐसी होती हैं। जो आपके जीवन में दुःख को पैदा करती है। अतः जीवन में खुश रहना तथा सभी को खुश रखना जीवन में आनंद का स्त्रोत्र माना जाता है।

Latest News