तेज गर्मी को लू के थपेड़ों से कंपकंपा रही धरती, आमजन और प्राणियों के हाल-बेहाल 

rajasthan local news
Add caption

राजस्थान में गर्मी का कहर घर के अंदर बैठे हुए भी महसूस किया जा सकता हैं।   राजस्थान में पारा 43 से ऊपर तो सामान्य की जैसे रह रहा है।   अगर व्यक्ति सड़क पर चल रहा है तो तापमान का अहसास दोगुना लगता है।  ऊपर से धुप जितनी तेज लगती है उतनी ही तेज आग की लपटें सड़कों से निकल रही रही है। मौसम विभाग द्वारा चेतावनी जारी की जा रही है।   गर्मी को देखते हुए लोगों ने एहतियात नहीं बरते तो चिकित्सालय जाना पड़ सकता है।   गर्मी में गति के साथ चल रही हवाएं बिमारी का संकेत दे रही है।  अतिरिक्त महानिदेशक बी.एल सोनी (SDRF)ने भी पब्लिक से एहतियात बरतने की सलाह दी है।   पुलिस भी खुद को धुप और लू से खुद को बचाने के साथ जनता को भी जागरूक करें।

राजस्थान में गर्मी का इसबार कहर जारी रह सकता है। लू चलने से बिमारियों का आगमन बढ़ सकता है।   जनता में जागरूकता लाने के लिए सभी प्रयास किये जा रहे हैं।  आने वाले 5 दिनों में 12 से 20 किमी की तेज गति के साथ गर्म हवाएं चलेगी।   लू से बचने के लिए ज्यादा से ज्यादा निम्बू पानी और छाछ का सेवन करें।   खाने में की लापरवाही न बरतें।   बच्चों को धुप में बाहर निकलने नहीं दें।  घर से बाहर निकलते समय सर ढकने के लिए छतरी और आँखों पर चश्मा और चेहरे पर रुमाल जरूर रखें।   बेवजह धुप में घूमना महंगा पड़ सकता है। हैजे जैसी बिमारियों का कहर छा सकता है।  गर्मी के चलते उल्टी और दस्त के मरीज चिकित्सालयों में आने लग गए हैं। 

लू से कैसे बचें
लू से बचने के लिए घर से बाहर बेवजह न निकलें।   घर से बाहर जाने से पहले अच्छे से पानी पियें और धुप से बचाव के पर्याप्त साधन इस्तेमाल करें।  कैरी के छाछ और सादा छाछ का जरूर सेवन करें।  8 जून तक गर्मी के तेवर बढ़ते रहेंगे।   बच्चों को दोपहर में बाहर न निकलने दें।  

27.023803674.2179326
Rajasthan, India

Latest News