solar penal

भारत का उड़ाया मजाक! भूखे भारतीय बता, सोलर पेनल खाते दिखाया कार्टून में। 

पेरिस जलवायु समझोते की प्रतिक्रिया में ऑस्ट्रेलिया के मुख्य अख़बार ने भारतीय को भूखा बताकर उन्हें सोलर पेनल खाते हुए का कार्टून छापा है।
ऐसे चित्र को छपा देख कई लोगों ने इसकी निंदा भी की और नस्लवादी करार भी दिया! कार्टून के जरिये यह बताया जा रहा है की एक भारतीय गरीब सोलर पेनल तोड़ रहा है और दूसरा आम की चटनी बना कर इसके साथ खा रहा है।  यह कार्टून सोशल मीडिया जगत में नस्लवादी बताकर निंदनीय करार दिया जा रहा है। एक विश्वविद्यालय की प्राध्यापिका ने यह कार्टून स्तब्ध रहने वाला है और कनाडा , ब्रिटेन, अमेरिका में अस्वीकार्य है।
उनका कहना है की भारत आज विश्व प्रोधोगिकी का केंद्र है जहाँ दुनिया के हाईटेक उद्योग है मुख्य सन्देश है की जलवायु परिवर्तन से निपटने के लिए प्रोधोगिकी से ज्यादा जरुरत खाने/भोजन  की है
ट्विटर सहित सोशल मीडिया पर भी इसकी काफी निंदा की गई। वहीँ कुछ लोगों भारत के तेजी से सतत विकास और विकसित होने की और भी ध्यान खिंचा। इससे पहले न्यूयार्क टाइम्स ने भी बारात विरोधी कार्टून छापा था।

Latest News