नार्वे: हमारा संसार कई बड़े बड़े जानवरों से भरा पड़ा है। खासतौर पर समुद्रों में पाए जाने वाले जीव-जंतुओं से हमें कुछ ऐसा देखने को मिल जाता है जिसकी हम कल्पना भी नहीं करते। हमसे मीलों दूर रहने वाले ये समुद्री जीव इंसान के लिए कुछ मौकों को छोड़ दिया जाए तो आत्तूर पर हिंसक नहीं होते। लेकिन हम इंसान अपनी लापरवाही के कारण इन जीवों की मौत का कारण बन जाते हैं।

हाल ही में नार्वे के आइलैंड पर एक मरी हुई व्हेल के अंदर से जो मिला, उसे देखकर वैज्ञानिक भी हैरान रह गए।

समुद्र तट पर मिली रहस्यमयी चीज़ ने मचाई खलबली, लेकिन इसके पीछे का सच जानकर आप रह जाएंगे हैरान

नार्वे के शोट्रा आइलैंड पर हाल ही में एक मृत व्हेल पाई गई और जब ऑपरेशन के दौरान व्हेल पर खोजबीन करने वाले वैज्ञानिकों ने उसका ऑपरेशन किया तो उसके पेट से 30 से ज्यादा प्लास्टिक के थैले मिले। लेकिन, शोधकर्ता ने कहा कि इस तरह का सामान मिलना कोई बड़ी बात नहीं है लेकिन पॉलीथिन के बैग मिलना बहुत बड़ी बात हैं। शोधकर्ता वैज्ञानिकों के मुताबिक व्हेल की मौत उन प्लास्टिक के थैलों के कारण ही हुई है।

डा. तेर्जे के मुताबिक पॉलीथिन के बैग्स से उसका पेट पूरा भरा हुआ था जिसके कारण उसे सांस लेने में दिक्कत हुई और उसकी मौत हो गई, इस दौरान समुद्र की लहरों में बहते हुए उसका मृत शरीर किनारे तक आ पहुंचा। व्हेल को देखकर वहां मौजूद लोगों में खलबली मच गई लेकिन जब लोगों को पता चला कि वो व्हेल मृत है तो उन्होंने सम्बंधित विभाग को इसकी सुचना देकर अवगत कराया।

डा. तेर्जे के अनुसार व्हेल के पेट से इस तरह का चीज मिलना कोई नई बात नहीं है, लेकिन इतनी मात्रा में मिलना दुखद है।

जानकारों की मानें तो हाल ही में ऐसे कई मामले सामने आए हैं। इंसानों की लापरवाही के कारण समुद्री जीवों की ज़िन्दगी खतरे में पढ़ चुकी है क्योंकि सैकड़ों लोग अपना प्लास्टिक और अन्य कचरा नदी, नालों और समुद्रों में फेंक देते हैं और अकेले यूरोप में ही प्लास्टिक इतने ज्यादा चलन में है कि हर साल वहां 100 बिलियन कैरियर बैग का इस्तेमाल किया जाता है।

Latest News