congress ghoshna patra
congress ghoshna patra

Congress Ghoshna Patra 2018 भाजपा के बाद कांग्रेस ने भी अपना चुनावी घोषणा पत्र (जन घोषणा पत्र) जारी कर दिया है। कांग्रेस ने भाजपा के सरकार में रहते हुए किये गए कार्यों का आंकलन और वादा खिलाफी पर बात रखते हुए घोषणा पत्र जारी किया। घोषणा पत्र में युवा, महिला, किसान, कर्मचारी सहित सभी वर्गों के लिए योजनाएं दी। शिक्षित बेरोजगारों को 3500 रूपए महीना भत्ता और महिलाओं को मुफ्त में शिक्षा देने का वादा किया। बुजुर्ग किसानों को पेंशन देने की बात भी घोषणा पत्र में कही गई है। राइट टू हेल्थ के प्रस्ताव सहित पत्रकार सुरक्षा कानून भी लाने के वादे भी घोषणा पत्र में कांग्रेस ने किए हैं।

Rajasthan Assembly Election 2018

विधानसभा चुनाव में दोनों ही पार्टियों ने अपने घोषणा पत्र में सभी वर्गों का ध्यान रखा लेकिन कहीं भाजपा आगे रही तो कहीं कांग्रेस कुछ आगे रही। कांग्रेस ने चुनावी घोषणा पत्र में शिक्षित बेरोजगारों को 3500 रूपए का भत्ता देने का वादा किया तो साथ ही बेरोजगारों को परीक्षा देने के लिए निशुल्क यात्रा का वादा भी किया। सरकार आने पर 10 दिन में किसानों का कर्जा माफ़ करने सहित बुजुर्ग किसानों को पेंशन देने का भी वादा किया। राइट टू हेल्थ प्रस्ताव के साथ पत्रकार सुरक्षा कानून भी लाने की बात घोषणा पत्र में कही। कृषि उपकरण जीएसटी से बाहर करने के साथ ही मजदूर और किसानों का पलायन रोकने के लिए बोर्ड भी बनाने का वादा किया। घोषणा पत्र जारी करते वक्त पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा की राजस्थान के इतिहास में पहली बार कोई विश्वविद्यालय बंद किया गया। लेकिन कांग्रेस घोषणा पत्र के मुताबिक पुरानी सभी योजनाएं जारी रखेंगी।

Latest News