Kadaknath Farming: कड़कनाथ नस्ल मुर्गे की फार्मिंग लगभग हर कोई करना चाहते हैं. लोग करना चाहे भी क्यों न इनसे इतने पैसे जो आते हैं. अभी हाल ही में खबर ये भी आ रही है कि भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी कड़कनाथ नस्ल के मुर्गे पालेंगे. जी हाँ मध्यप्रदेश के कुक्कुट फॉर्म को महेंद्र सिंह धोनी ने ऑर्डर मिलने के बाद कड़कनाथ नस्ल के 2,000 चूजों को भेजा गया है. बता दे झाबुआ जिले के थांदला तहसील के ग्राम रूंडीपाडा निवासी विनोद मेडा ने इन चूजों को झाबुआ के जिलाधिकारी सोमेश मिश्रा द्वारा रांची के लिए रवाना किया है.

कड़कनाथ मुर्गे क्यों होते हैं खास

आपकी जानकारी के लिए बता दे कड़कनाथ नस्ल का मुर्गा अपने रंग और औषधीय गुण के कारण देश-विदेश भर में जाना पहचाना जाता है. आपको जानकर हैरानी होगी कि इसके एक किलोग्राम मांस में कॉलेस्ट्राल की मात्रा करीब 184 MG होती है वही इनकी कम्प्येर करें तो ये 214 एमजी प्रति किलोग्राम होती है.

Kadaknath Chicken की कीमत

बात अगर कीमत की करें तो चूजे के जन्म के बाद से ही अलग-अलग दिनों के अनुसार इसकी कीमत तय की जाती है. आपको जानकर हैरानी होगी कि एक दिन, सात दिन, और 15 दिन के चूजों की कीमत अलग होती है. बता दे एक दिन के चूजे की कीमत 75 रुपये, सात दिन के चूजे की कीमत 80 रुपये वही 15 दिन के चूजे की कीमत 90 रुपये होती है.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *