भोजपुरी सिनेमा इंड्रस्टी आज के समय में काफी तेजी से आगे बढ़ती जा रही है। आज के समय में न सिर्फ कलाकारः ही बेहतरीन हैं बल्कि यह इंड्रस्टी आधुनिक तकनीक का भी पूरा लाभ ले रही है। यही कारण है की आज के समय में भोजपुरी सिनेमा काफी तेजी से ग्रोथ कर रहा है।

खैर आज हम बात कर रहें हैं डांस की एक अलग ही विधा के बारे में बारे में, जिसको ‘मुजरा” कहा जाता है। आपने भोजपुरी सिनेमा में रोमांटिक से लेकर आइटम नंबर तक देखें ही होंगे लेकिन मुजरे पर कभी काम नहीं किया गया।, इसी कारण डांस की इस विधा को लोग भूल सा गए हैं। खैर आज हम आपको भोजपुरी फिल्म के एक ऐसे मुजरे को यहां दिखा रहें हैं। जो आजकल काफी ज्यादा पसंद किया जा रहा है।

फिल्म मुकद्दर से लिया है गाना

आपको बता दें की 2017 में भोजपुरी सिनेमा में फिल्म “मुकद्दर” रिलीज हुई थी। इस फिल्म में एक्ट्रेस काजल राघवानी ने “ऐसे ई जिउवा जरे” नामक गीत मुजरा किया था। इस मुजरे के बोल से लेकर इसका संगीत ताज असली मुजरे की छाप छोड़ते हैं, यही इस गीत की खासियत है। वहीं काजल राघवानी की ख़ूबसूरती भी इसे देखने वालों के दिल दिमाग पर अपनी गहरी छाप छोड़ती दिखाई पड़ती है।

इन लोगों का रहा सहयोग

आपको बता दें की फिल्म मुकद्दर को शेखर शर्मा ने निर्देशित किया है तहा मुजरे वाले इस गीत को इंदु सोनाली तथा मधुकर आनंद ने मिलकर गाया है। गीत को प्यारे लाल यादव ने लिखा है तथा मधुकर आनंद ने ही इस गीत को संगीत में बांधा है। ‘वेब म्‍यूजिक’ चैनल पर इस वीडियो को शेयर किया गया है। इस वीडियो को अब तक 13 म‍िल‍ियन यानी 1.3 करोड़ से अधिक बार देखा जा चुका है।

जानें फिल्म की कहानी

इस गीत के सीक्‍वेंस को समझने के लिए आपको फिल्म की कहानी को जानना होगा। असल कहानी यह है की इस फिल्म में एक मशहूर अभिनेता है, जिसको एक नई नई गायिका से प्रेम हो जाता है लेकिन मज़बूरी गायिका को कोठे पर गाने को मजबूर कर देती है। वहीं एक्टर गायिका को कोठे से व`वापस लाने के लिए किसी भी हद तक जाने को तैयार है। इस मुजरे में काजल राघवानी ने मजबूर गायिका का ही अभिनय किया है वहीं एक्टर के रूप में खेसारी लाल यादव ने बेहतरीन अभिनय किया है।