आपको बता दें कि सरकार अपने कर्मचारियों तथा पेंशंनरों का ख्याल हमेशा रखती है। हालही में सरकार ने अपने कर्मचारियों तथा पेंशंनरों के लिए एक विशेष सुविधा को शुरू किया है। इस सुविधा का लाभ 22 लाख से अधिक कर्मचारियों तथा इसके अलावा सभी पेंशंनरों को भी मिलेगा। आपको बता दें कि यह सुविधा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री सीएम आदित्यनाथ योगी ने शुरू की है। इस सुविधा का लाभ सरकारी कर्मचारियों के परिजनों को भी मिलेगा। हालही में सीएम आदित्यनाथ ने इस योजना के लिए 10 करोड़ रुपये की पहली क़िस्त जारी की है। इस योजना में कर्मचारी तथा उनके परिजन मेडिकल सुविधा का लाभ पाएंगे।

यह लाभ मिलेगा इस योजना में

आपको बता दें उत्तर प्रदेश में 22 लाख से अधिक सरकारी कर्मचारी तथा पेंशनर हैं। इन सभी के लिए सीएम आदित्यनाथ ने इन सभी को कैशलेस इलाज का तोहफा दिया है। लोक भवन में सीएम आदित्यनाथ ने “पंडित दीनदयाल उपाध्याय राज्य कर्मचारी कैशलेस चिकित्सा” योजना की शुरुआत की। योजना के अनुसार 22 लाख से अधिक कर्मचारियों तथा पेंशनरों के कार्ड बनेंगे तथा वह ओर उनके परिजन इस कार्ड के माध्यम से कैशलेस इलाज का लाभ उठा सकेंगे।

आपको बता दें कि 22 लाख कर्मचारियों तथा पेंशनरों के परिजनों को मिलाकर लगभग 75 लाख लोग इस योजना से लाभ प्राप्त करेंगे। ये लोग 5 लाख रुपये तक का उपचार सरकारी या प्राइवेट हॉस्पिटल में करा सकेंगे। इस सुविधा का लाभ लेने के लिए सरकारी विभाग ने sects.up.gov.in पर कर्मचारियों का पंजीकरण भी शुरू कर दिया है।

Latest News